IPL 2021 खेलने से किस टीम को मिलेगा T20 World Cup में फायदा?


नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग 2021 (IPL 2021) के दूसरे फेज़ का आगाज 18 सितंबर से यूएई में होने जा रहा है. जिस तरह पहले फेज में फैंस को कमाल का खेल देखने को मिला कुछ ऐसा ही दूसरे फेज में दिखना तय है. इंडियन प्रीमियर लीग में हमेशा की तरह इस बार भी खिलाड़ी बेहतरीन प्रदर्शन करना चाहेंगे क्योंकि इसी के दम पर आगे उनकी कीमत तय होती है. लेकिन इस बार का आईपीएल दूसरी वजह से भी बेहद महत्वपूर्ण है. दरअसल आईपीएल फाइनल के महज दो दिन बाद ही टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) शुरू होगा, जिसका आयोजन यूएई में ही होगा. इसका मतलब ये है कि आईपीएल 2021 का दूसरा फेज सीधे तौर पर टी20 वर्ल्ड कप की तैयारी का सबसे बड़ा मौका है.

बता दें पहले आईपीएल 2021 के दूसरे फेज में ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड के खिलाड़ियों का हिस्सा लेना तय नहीं था लेकिन जैसे ही ये टूर्नामेंट यूएई में शिफ्ट हुआ तो सभी टीमों के खिलाड़ी इसमें हिस्सा लेने की दिलचस्पी दिखाने लगे. खासतौर पर इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलने की इजाजत दे दी, जबकि पहले ये बोर्ड आनाकानी कर रहे थे. दरअसल आईपीएल 2021 का दूसरा फेज टी20 वर्ल्ड कप को जीतने की चाभी की तरह है. आईपीएल के जरिए खिलाड़ी टी20 वर्ल्ड कप से पहले यूएई की पिचों को समझ सकेंगे और साथ ही वहां के माहौल में भी ढल पाएंगे. अब सवाल ये है कि किस टीम को आईपीएल 2021 से काफी ज्यादा फायदा होने वाला है.

वेस्टइंडीज को मिलेगा सबसे ज्यादा फायदा
टी20 वर्ल्ड कप 2021 से पहले आईपीएल में खेलने का सबसे ज्यादा फायदा अगर किसी टीम को मिलेगा तो वो वेस्टइंडीज ही है. वेस्टइंडीज के कई खिलाड़ी इस लीग में खेलने वाले हैं. खासतौर पर उसकी प्लेइंग इलेवन के अहम खिलाड़ियों की बात करें तो ड्वेन ब्रावो, कप्तान कायरन पोलार्ड, फैबियन एलेन, निकोलस पूरन, शिमरॉन हेटमायर इस लीग का हिस्सा हैं. यही नहीं अब तो एविन लुईस भी राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा बन चुके हैं जिनके लिए यूएई की पिचों में खुद को ढालना विरोधी टीमों को बहुत भारी पड़ सकता है.

ऑस्ट्रेलिया को भी फायदा मिलेगा
ऑस्ट्रेलिया की टी20 वर्ल्ड कप टीम में चुने गए कुछ अहम खिलाड़ी भी आईपीएल 2021 से यूएई के हालात में खुद को ढाल सकते हैं. जिनमें ग्लेन मैक्सवेल, स्टीव स्मिथ, जोश हेजलवुड, मार्कस स्टोयनिस, डेन क्रिश्चियन प्रमुख हैं. ऑस्ट्रेलिया के लिए मुश्किल वाली बात ये है कि पैट कमिंस यूएई में नहीं खेल रहे हैं क्योंकि वो पिता बनने वाले हैं. साथ ही मिचेल स्टार्क, एरॉन फिंच जैसे प्रमुख खिलाड़ी भी आईपीएल का हिस्सा नहीं हैं, जिसका खामियाजा इन खिलाड़ियों को टी20 वर्ल्ड कप में भुगतना पड़ सकता है.

साउथ अफ्रीका के अहम गेंदबाज खेल रहे हैं आईपीएल
साउथ अफ्रीकी टीम भले ही पहले की तरह मजबूत नहीं रही हो लेकिन टी20 वर्ल्ड कप से पहले उसके कई अहम खिलाड़ी यूएई की पिचों में खुद को ढाल सकते हैं. खासतौर पर गेंदबाजों की बात करें तो कागिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, लुंगी एन्गिडी, एनरिक नॉर्खिया यूएई की पिचों पर अपनी लाइन-लेंग्थ को सेट कर सकते हैं.

इंग्लैंड को होने वाला है बड़ा नुकसान
इंग्लैंड के कई क्रिकेटर आईपीएल 2021 में खेल रहे हैं लेकिन उसके कुछ बड़े मैच विनर खिलाड़ियों ने इस टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया है. जॉनी बेयरस्टो, जोस बटलर, डेविड मलान और क्रिस वोक्स ने आखिरी वक्त पर आईपीएल 2021 नहीं खेलने का फैसला किया है. ये खिलाड़ी टी20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड की प्लेइंग इलेवन का अहम हिस्सा होंगे लेकिन अब ये खिलाड़ी बिना यूएई की पिच में ढले ही टी20 वर्ल्ड कप खेलने उतरेंगे. वैसे मोइन अली, कप्तान ऑयन मॉर्गन, सैम करेन, सैम बिलिंग्स, लियाम लिविंगस्टोन, क्रिस जॉर्डन, आदिल रशीद, जेसन रॉय जैसे खिलाड़ी आईपीएल 2021 में हिस्सा लेने वाले हैं. अंत में आईपीएल 2021 से सबसे ज्यादा भारतीय टीम को ही फायदा होने वाला है क्योंकि उसके टी20 वर्ल्ड कप स्क्वाड का हर खिलाड़ी इस लीग में खेलेगा और पिच के मुताबिक खुद को ढालेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

Leave a Reply