40 साल से बेच रहे हैं अंडे ही अंडे, कांति नगर के ‘राजू अंडा भंडार’ में जरूर खाएं ऑमलेट


(डॉ. रामेश्वर दयाल)
दिल्ली क्या, अब तो हम यह कहेंगे कि पूरे देश के खानपान में अंडे का जबर्दस्त बोलबाला है. अंडा एक ऐसा व्यंजन है, जिसका ऑमलेट, हाफ फ्राई या भुर्जी तो बनती ही है. अंडा करी के भी खासे जलवे हैं तो उबले अंडे को नॉन वेज बिरयानी में डालकर भी सर्व किया जाता है. अब तो सालों से अंडा डोसा तक बिक रहा है और ग्रीन सलाद में भी अंडे का प्रचलन बढ़ रहा है. अगर हम यह कहें कि जिस प्रकार शाकाहारी सब्जियों में आलू नाम कमा रहा है, उसी तरह गैर-शाकाहारी भोजन में अंडे की ख्याति जबर्दस्त है. अंडे की इसी मशहूरियत को चेक करने के लिए आज हम आपको अंडे की एक ऐसी दुकान पर लेकर चल रहे हैं, जो भाई पिछले 40 साल से अंडे ही बेच रहा है.

कभी यह बंदा फुटपाथ पर दुकान लगाता था. आज इसका इतना नाम हो चुका है कि दुकान में अंडे की डिश बनाने वाले लड़के ड्रेस कोड फॉलो करते हैं. हम यह भी बताते चलें कि इसकी अंडो की वैरायटी सीमित है, लेकिन खाने वालों की संख्या इफरात में है.

इसे भी पढ़ेंः कॉन्टिनेंटल-इंडियन स्ट्रीट फूड खाने का है मन, तो Yellow Bowl का स्वाद चखें

देसी अंडों की डिश है लाजवाब
यमुनापार स्थित, सीलमपुरा (शाहदरा) के पास ही कांति नगर मेन रोड है. यहां पर बस स्टेंड के पास ‘राजू अंडा भंडार’ नाम से दुकान है. शाम होते ही जब इस दुकान पर अंडे उबलते हैं और मक्खन में बनते ऑमलेट की खुशबू चारों तरफ उड़ती दिखाई दे तो लगेगा कि इस भाई की दुकान की अंडे की कोई न कोई डिश खाकर जरूर देखी जाए. इस दुकानदार की अंडे बनाने में कोई दिखावा नहीं है. तीन-चार किस्म की अंडे की डिश है और उसे ही खाने के लिए लोग लालायित रहते हैं. इसकी दुकान पर देसी अंडों की डिश भी मिलती है और दुकानदार का दावा है कि उसके देसी अंडों को कोई चैलेंज करके दिखा दे. आप वहां पर इन अंडो की डिश बनते देखोगे तो भूख तेजी से जागृत होती महससू होगी.

इनमें कटी प्याज, हरी मिर्च व टमाटर के अलावा स्पेशल मसाला भी इस्तेमाल किया जाता है, जो अंडे को बेहद स्वादिष्ट बनाता है. इसी देसी अंडे का आपको ऑमलेट मिलेगा, हॉफ फ्राई या भुर्जी (भुजिया) खा सकते हैं. दो देसी अंडों की मक्खन में बनी यह डिश लोगे तो वह 75 रुपये की है. साथ में ब्रेड के दो पीस भी आपको सेंककर दिए जाएंगे. खाने के लिए मीठी-खट्टी चटनी भी उपलब्ध कराई जाएगी.

चीज़ ऑमलेट का स्वाद तन-मन को विभोर कर देता है
दो देसी अंडों की यही डिश आपको वनस्पति में बनवानी है तो वह 55 रुपये में उपलब्ध है. इसी तरह दो फार्मी अंडे की मक्खन की यही डिश 50 रुपये की है और वनस्पति में मात्र 40 रुपये में मिल जाएगी. पसंद आपकी है कि मक्खन में अंडा खाना है या वनस्पति में. इसी तरह देसी घी में उबला अंडा 15 रुपये में मिलेगा. इस उबले की जर्दी हलदी की तरह पीली होगी और स्वाद आम अंडो से बिल्कुल ही अलग महसूस होगा. इस दुकान पर भी एक खास प्रकार का ऑमलेट मिलता है. उसमें चीज़ की एक स्लाइज रखी जाती है. यह चीज़ वाला अंडा खाते वक्त जब जुबान में घुलता है तो मन करता है एक प्लेट और खा ली जाए. मोटे तौर पर इस दुकान में अंडो के डिश की यही गिनी-चुनी वैरायटी हैं. लेकिन आप कुछ अलग से बनाने की कहोगे तो वह भी शानदार तरीके से तैयार कर ली जाएगी. कारण यह है कि अंडे वाला सालों से सिर्फ अंडे ही बेच रहा है.

इसे भी पढ़ेंः साउथ से आए अन्ना ने शुरू की ‘शिव टिक्की वाला’ दुकान, पहुंचें कड़कड़डुमा और चखें स्वाद

जब काम शुरू किया था तो सवा रुपये का ऑमलेट बेचते थे
यह दुकान दिल्ली में 40 साल से लग रही है. दिल्ली में ऐसी दुकानें गिनी चुनी ही होंगी, जहां इतने सालों से सिर्फ अंडे की डिश बेची जा रही है. इस दुकान को राजू ने शुरू किया. पहले वह फुटपाथ पर फड़ लगाते थे. मशहूरियत बढ़ी और काम चल निकला. अब करीब 20 साल से अपनी दुकान से काम चल रहा है. इस काम में उनका साला पप्पू भी जुटा है. अब तो जो स्टाफ है, वह कुछ साल से ड्रेस कोड को फॉलो करता है. उनका कहना है कि हमारी यूएसपी देसी अंडे हैं. वह सही मायनों में देसी अंडे हैं, उन्हें कोई चैंलेज नहीं कर सकता.

यह पूछे जाने पर कि लगातार 40 साल से अंडे ही बेच रहे हो, कोई और काम धंधा नहीं किया? उनका कहना था, जिस लाइन में ऊपर वाला लगा देता है, वही काम करना पड़ता है. उन्होंने बताया कि जब उन्होंने यह काम शुरू किया था, बड़ा सस्ता जमाना था. मात्र सवा रुपये में दो अंडों का आमलेट बेचा जाता था. दुकान पर कामकाज शाम 5 बजे शुरू होता है और रात 11 बजे तक ऑमलेट वगैरह मिलते हैं. मंगलवार को अवकाश रहता है.
नजदीकी मेट्रो स्टेशन: वेलकम

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

Leave a Reply